Hindi

उम्मीदोके ख्वाबोके रंगिन गुब्बारे

लोग कहते है जिंदगी ठहरसी गयी है, बारीषकी बुंदे अटकसी गयी है, परिंदोकी चहक रुकसी गयी है, चारो तरफ चुप्पी फैलसी गयी है…….. . दिलोमे दरिया मचल तो रहा है, दिमागोमे तूफान थमसा गया है, हवाओमे सर्दसी बिखरी हुई है, पत्तोकी हलचल अजीब हो रही है……… बातोमे करकश कही भी नही है, बातोमे फिरभी महक […]

Continue Reading
©2020: Mukund Bhalerao | Web Master: TechKBC
Back To Top